+91-98105 36575

Home » Land Pooling Policy » सिंगल विंडो पोर्टल से क्रियान्वित होगी लैंड पूलिंग पॉलिसी

सिंगल विंडो पोर्टल से क्रियान्वित होगी लैंड पूलिंग पॉलिसी

नई दिल्ली:  दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) की लैंड पूलिंग पॉलिसी सिंगल विंडो पोर्टल के जरिये क्रियान्वित होगी। इसी के जरिये पॉलिसी से जुड़ने के लिए आवेदन करना होगा और इसी के माध्यम से इससे संबंधित हर शंका या समस्या का समाधान भी होगा। तीन से चार माह में इस पोर्टल के तैयार हो जाने की संभावना है। लैंड पूलिंग पॉलिसी अधिसूचित भले ही हो गई हो, लेकिन अभी इसका क्रियान्वयन शुरू नहीं हुआ है। विडंबना यह है कि बिल्डरों ने दिल्ली में आशियाने की चाहत रखने वालों को भ्रमित करना शुरू कर दिया है। खासतौर पर द्वारका और गुरुग्राम में कार्यालय खोलकर उक्त पॉलिसी के तहत सस्ते मकानों की बुकिंग शुरू की जा रही है।

Delhi-lpp-news

डीडीए ने ऐसे मामलों को गंभीरता से लिया है और सार्वजनिक सूचना निकालकर जनता को सावधान किया है कि वह अभी कहीं पैसा न लगाए। डीडीए के मुताबिक, पॉलिसी का फ्रेमवर्क तैयार हो रहा है। 17 लाख घर और 75 लाख से ज्यादा लोगों की आवासीय जरूरतों को पूरी करने वाली इस योजना के लिए पहले जोनल प्लान तैयार किए जाएंगे। बाद में सारी सुविधाएं मुहैया कराने का दायित्व डेवलपर का होगा, लेकिन निगरानी डीडीए की भी रहेगी। जोनल प्लान में पहले से सब कुछ मार्क किया जाएगा कि कहां और कितनी जमीन पर किस किस तरह से आवासीय इकाइयां तैयार की जाएंगी। कहां पर मकान होंगे और कहां सामुदायिक भवन, पार्क, पार्किंग, सीवरेज और पेयजल की लाइनें होंगी। इसी के अनुरूप इस पॉलिसी पर काम शुरू किया जा सकेगा। अधिकारियों के मुताबिक, पोर्टल और पॉलिसी से जुड़े मानक तैयार करने में कुछ वक्त लगेगा।

इससे पहले यदि कोई बिल्डर इस पॉलिसी के नाम पर सस्ते मकान और फ्लैट की बुकिंग करता है तो वह गैरकानूनी है। जनता ऐसे बिल्डरों के झांसे में न आए।1प्राधिकरण के अधिकारियों के मुताबिक, जब तक पोर्टल तैयार होता है, इच्छुक डेवलपर जमीन का पूल अवश्य तैयार कर सकते हैं। मालूम हो कि इस पॉलिसी में भागीदारी करने के लिए कम से कम दो हेक्टेयर जबकि डेवलपर के पास दो सौ हेक्टेयर जमीन होनी चाहिए। अगर डेवलपर के पास पहले से जमीन का पूल तैयार होगा तो पोर्टल और फ्रेमवर्क तैयार हो जाने के बाद वे तुरंत काम शुरू कर सकेंगे।

source from:https://epaper.jagran.com/epaper/23-oct-2018-4-Delhi-City-Page-1.html

Facebooktwittergoogle_plus

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *